HomeIslamतरावीह की नमाज़ पढने का तरीका Taraweeh ki Namaz in Hindi

तरावीह की नमाज़ पढने का तरीका Taraweeh ki Namaz in Hindi

तरावीह की नमाज़ पढने का तरीका (taraweeh ki namaz ka tarika in hindi): रमजान महीना पाक एंव इबादत का महीना है ऐसे में २९ या ३० का रोजान रखने के साथ मुस्लिम समुदाय के लोग पांच वक्त की नमाज के साथ तरावीह की नमाज़ भी अदा करते है ऐसे में आज हम तरावीह की नमाज़ पढने का तरीका क्या है है? तरावीह की नमाज कितनी रकात की होती है (namaz e taraweeh ki kitni rakat hoti hai)? तरावीह की नमाज़ कैसे पढ़े? इत्यादि की जानकारी इस लेख के माद्यम से बता रहे है

यह पढ़े: रोजा रखने खोलने की दुआ हिंदी में

तरावीह की नमाज़ क्या है?

taraweeh ki namaz kya hai in Hindi: इस्लाम के अनुसार हर एक मुसलमान को ५ वक्त की नमाज पढ़ना अनिवार्य है लेकिन रमजान के महीने में एक और नमाज तरावीह की नमाज़ पढ़ी जाती है इस नमाज की शुरुवात रमजान का पहला रोजा शुरू होने से पहले ईशा नमाज अदा करने के बाद पढ़ी जाती है तरावीह की नमाज़ में कुरआन शरीफ की हर दिन कुछ आयात हिफ्ज कुरआन हाफिज के द्वारा पढ़ी जाती है एंव यह सिलसिला जब तक कुरआन शरीफ का ३० पारा ख़त्म नहीं हो जाता तक चलता है लेकिन रमजान के ३० रोजा ख़त्म होते होते तरावीह की नमाज़ एंव कुरआन शरीफ का ३० पारा ख़त्म कर लिया जाता है तरावीह की नमाज़ पढ़ना मुस्लिम धर्म के लोगो के लिए अनिवार्य नहीं है इस्लाम में केवल पांच वक्त की नमाज फर्ज है

पांच वक्त की नमाज का नाम उर्दू हिंदी में

5 Waqt ki Namaz ke Naam urdu Hindi Me: इस्लाम की मान्यता के अनुसार हर के मुस्लमान के लिए 5 वक्त की नमाज पढ़ना अनिवार्य है आगे जाने पांच वक्त की नमाज का नाम इन हिंदी उर्दू अरबी इंग्लिश

नमाज की संख्यानमाज का नाम इन हिंदीनमाज का नाम इन उर्दूनमाज का नाम अंग्रेजी में
1नमाज़ -ए-फ़ज्रFajr
2नमाज-ए-ज़ुहरZuhar
3नमाज -ए-अस्रAsar
4नमाज-ए-मग़रिबMaghrib
5नमाज-ए-ईशाIsha
6तरावीह की नमाज़ (रमजान के महीने)
5 वक्नत की नमाज का नाम

तरावीह की नमाज़ की नियत कैसे करें

“नियत करता/करती हु मै 2 रकात नमाज़ सुन्नत तरावीह की (औरत करती हु एंव मर्द करता हु) वक्त ईशा का वास्ते अल्लाह के रुख मेरा काबा शरीफ की तरफ+मर्द के लिए इमाम के पीछे (मस्जिद में अगर तरावीह की नमाज़ अदा कर रहे मर्द हजरात ऐसे में इमाम के पीछे कहे) अल्लाहु अकबर” कहकर हाथ बांध ले। अगर आप दिल मे भी ये इरादा करते/करती है के मै 20 रकात नमाज़ तरावीह की पढता/पढ़ती हु ऐसे में भी आपकी नियत हो जाएगी

तरावीह की दुआ हिंदी उर्दू में पीडीऍफ़ डाउनलोड

तरावीह की नमाज 20 रकात की होती है ऐसे 2 रकात नमाज पढ़कर दुबारा से 2 रकात नमाज अदा किया जाता है जब 4 रकात नमाज अदा हो जाती है फिर तरावीह की दुआ पढ़ना चाहिए तरावीह की दुआ हिंदी में उर्दू में निम्नवत है

तरावीह की दुआ हिंदी में पीडीऍफ़ डाउनलोडतरावीह की दुआ उर्दू में पीडीऍफ़ डाउनलोड
सुबहाना ज़िल मुलकी वल मलाकूत

सुबहाना ज़िल इज्ज़ती वल अज़मती वल हैबती वल क़ुदरती वल किबरियाई वल जबारूत

सुबहानल मलिकिल हययिल लज़ी ला यनामु वला यमूतु सुब-बूहुन कुद्दू सुन

रबबुना वा रबबुल मलाइकती वररूह अल्लाहुम्मा अजिरना मिनन नार या मुजीरु या मुजीरु या मुजीर
سُبْحَانَ ذِى الْمُلْكِ وَالْمَلَكُوْتِ سُبْحاَنَ ذِى الْعِزَّةِ وَالْعَظْمَةِ وَالْهَيْبَةِ وَالْقُدْرَةِ وَالْكِبْرِيَآءِ وَالْجَبَرُوْتِ سُبْحَانَ الْمَلِكِ الْحَىِّ الَّذِىْ لَا يَنَامُ وَلَا يَمُوْتُ سُبُّوْحٌ قُدُّوْسٌ رَبُّنَا وَرَبُّ الْمَلٰٓئِكَةِ وَالرُّوْحِ اَللّٰهُمَّ اَجِرْنَا مِنَ النَّارِ يَا مُجِيْرُ يَا مُجِيْرُ يَا مُجِيْرُ
तरावीह की दुआ हिंदी उर्दू में

औरत की तरावीह की नमाज़ पढने का तरीका

तरावीह की नमाज़ मर्द एंव औरत दोनों के लिए सुन्नत-ए-मौअक्कदा है इसलिए इसे छोड़ना जायज नहीं है हुज़ूर पाक ने भी तरावीह की नमाज अदा किया साथ ही बहुत ही पसंद फरमाया ऐसे में औरत की तरावीह की नमाज पढने का तरीका सीखे

  • तरावीह की नमाज़ शुरू करने से पहले नियत करना सबसे जरुरी है ऐसे में सबसे पहले नियत करे तरावीह की नमाज़ पढने के लिए
  • तरावीह की नमाज की नियत (तरावीह की नमाज की नियत कैसे करे?) करने के बाद आपको नमाज पढ़ना है नमाज जैसे आप ५ वक्त की नमाज पढ़ते है ठीक वैसे ही पढ़े
  • सबसे पहले तरावीह की नमाज के लिए आपने नियत किया, नियत के बाद सना पढ़े, अब आउजु बिल्ला और bismilla पढ़े, अब सुरह फातिहा पढ़े, इसके बाद कोई भी एक सुरह जो आपको याद हो वह पढ़े
  • अगर आपको अलमतरा से सूरत याद है क्यूंकि इस सूरत से आखिर सूरत तक 10 सूरत होती है । तो पहली रकात मे अलमतरा और दूसरी रकात मे लि-इलाफ़ी की सूरत पढ़नी है
  • इसी तरतीब से 10 वी रकात मे surah naas पर पूरी होगी फिर 11 वी रकात मे दोबारा इसी तरतीब से पढ़नी है
  • जब तरावीह की 4 रकात नमाज अदा कर चुके हो तो आपको हर बार तरावीह की नमाज की दुआ पढनी चाहिए

यह पढ़े: रमजान सहरी इफ्तार टाइम टेबल 2022

taraweeh ki namaz ka tarika in hindi
नदीम गोरखपुरी
नदीम गोरखपुरीhttps://gorakhpurhindi.com
गोरखपुर न्यूज़ इन हिंदी : गोरखपुर, उत्तर प्रदेश, भारत का एक जिला है और इस जिले में पर्यटन स्थल, चिड़िया घर, नौका विहार, रेलवे संग्रहालय, पार्क, मॉल, सिनेमा थियेटर इत्यादि मौजूद है गोरखपुर न्यूज़ इन हिंदी आपको वह सभी न्यूज़ से अवगत करती है जो आपके काम के हो अगर आप गोरखपुर के किसी स्थान के बारे में जानकारी चाहते है तो इस वेबसाइट पर वह सभी न्यूज़ खबर पढने को मिलेगा { नदीम गोरखपुरी (Mohd Nadeem) }
RELATED ARTICLES

यह भी देखे