Homeइस्लामदुरूद ए जुमा हिंदी में Durood e Juma in Hindi

दुरूद ए जुमा हिंदी में Durood e Juma in Hindi

दुरूद ए जुमा हिंदी में Durood e Juma in Hindi PDF: जुमा की नमाज के बाद दुरूद ए जुमा पढ़ने की बहुत सी फ़ज़ीलत है (Durood e juma ki Fazilat) हदीसों से साबित है दुरूद ए जुमा के 40 फायदे मिलते है जिनमे से कुछ या चाँद दुरूद ए जुमा की फ़ज़ीलत का जिक्र यहाँ किया जा रहा है

दुरूद ए जुमा हिंदी में | Durood e Juma In Hindi

  • सल्लललाहु अलन नबिय्यिल उम्मियी व
  • आलिहि सल्लललाहु अलैहि वसल्लमा
  • सलातौंव वसलामन अलैका या रसूल अल्लाह

Durood e Juma in Arabic | दुरूद ए जुमा अरबी में

صلى الله على النبيّ الاميّ واله صلى الله عليه وسلم صلاة وسلام عليك يا رسول الله

Durood e Juma in Arabic

Durood e Juma Ki Fazilat | दुरूद ए जुमा हिंदी में

  • हदीसों में दुरूद ए जुमा की फजीलत (Durood e Juma Ki Fazilat)
  • जो शख्स हुजुर अक्दस सल्लाहु तआला अलैह व् सल्लम से सच्ची मुहब्बत रखें
  • तमाम जहान से ज्यादा हुजुर पाक की अजमत दिल में जमाए
  • हुजुर की शान घटाने वालों बद मजहबों से बेजार और उन से दूर रहें
  • वह अगर इस दुरूद मकबूल को हर रोज नमाजे फर्ज या जुमा बाद मदीना तय्यबा के जानिब खड़े होकर पढ़े
  • उसे अल्लाह पाक बेशुमार सवाब से पायें
  • दुरूद ए जुमा एक बार पढने से 100 दुरूद पढने का सवाब मिलता है
  • इस तरह से जिसने 100 बार दुरूद ए जुमा पढ़ा गोया उसे दज हजार मर्तबा दुरुद पढ़ने का सवाब पायेगा
  • बेहतर ही की दुरूद ए जुमा, दो चार दस बीस आदमी मिलकर पढ़े

दुरूद ए जुमा की फ़ज़ीलत | Durood e Juma Ki Fazilat

अगर आप दुरूद ए जुमा पढ़ते है तो इसके 40 फायदे मिलते है ऐसा हदीस से साबित है कुछ फ़ज़ीलत का जिक्र यहां किया जा रहा है

  • दुरूद ए जुमा पढ़ने के निम्न फायदे या फ़ज़ीलत है
  • इस दुरुद शरीफ Durood e Juma को पढने पर अल्लाह पाक तीन हजार रहमतें नाजिल फरमाएगा
  • पढ़ने वाले पर अल्लाह पाक दो हजार बार अपना सलाम भेजगा
  • पांच हजार नेकिया उसके नामए आमाल में लिखेगा
  • पांच हजार गुनाह मांफ फरमाएगा
  • उसके माथे पर लिख देगा कि यह दोजख से आजाद है
  • अल्लाह पाक उसे क़यामत के दिन उसे शहीदों के साथ रखेगा
  • उसके माल में तरक्की एंव बरकात देगा
  • उसकी औलाद और औलाद की औलाद में बरकत देगा
  • दुश्मनों पर गल्बा देगा
  • दिलो में उसकी मुहब्बत रखेगा
  • ईमान पर खात्मा होगा
  • क़यामत पर हुजुर की शफाअत नसीब होगी
  • अल्लाह पाक उससे ऐसे राजी होगा कि कभी नाराज न होगा
लोकप्रिय लेख

यह भी देखे