Homeइस्लामहज के नियम क्या करे क्या न करे Hajj Rules in Hindi

हज के नियम क्या करे क्या न करे Hajj Rules in Hindi

हज के नियम क्या करे क्या न करे Hajj Rules in Hindi: इस्लाम धर्म में हज यात्रा का बहुत ही ख़ास महत्व है ऐसे में जो हज के नियम व् शर्ते क्या है आपको पता होना चाहिए

अपने जीवन काल में हर एक मुसलमान का सपना होता है वह एक बार हज की यात्रा करें एंव हज पूरा करे लेकिन हज पर जाने से पहले आपको कुछ नियम या कुछ काम करके जाना चाहिए जिससे आपका हज कामयाब हो सके

इस्लाम धर्म में ईमान, अमाल के साथ साथ अन्य भी कई ऐसे काम है जिसे हज यात्रा पर जाने से पहले पूरा करना जरुरी होता है ऐसे में आइये जाने हज पर जाने से पहले 7 काम जिसे पूरा कर लेना चाहिए उसके बाद ही हज पर जाना चाहिए

Hajj Rules in Hindi | हज के नियम इन हिंदी

  • हज की नियत करें
  • वालिदेन को खुश करके जाएं
  • हज पर जाने से पहले कर्ज अदा करें
  • अल्लाह के हुकुक अदा करें
  • शिकवा या शिकायत मिटाने के बाद जाएं
  • बीबी बच्चे या परिवार का ख्याल करके जायें
  • जरुरी दस्तावेज साथ लेकर जाए

हज के नियम क्या करे क्या न करे Hajj Rules in Hindi

Hajj Rules in Hindi: जब भी हज पर जाएं उससे पहले यह 7 नियम को जरुर पूरा करें उसके बाद ही हज के लिए रवाना हो

हज की नियत करें

हज यात्रा शुरू करने से पहले आप जिस शहर में रहते है उसी शहर से हज की नियत करें, नियत हज करने की और अल्लाह पाक के नबी हुजुर ﷺ से मुलाक़ात करने की

वालिदेन को खुश करके जाएं

जब भी हज यात्रा के लिए जाए उससे पहले अपने मां बाप को खुश करके जाए यानी अगर आपके मां बाप किसी कारण आपसे नाराज है तो उन्हें पहले खुश करें उनसे मांफी मांगे उसके बाद हज पर जाएं अगर आपके मां बाप की इजाजत हज पर जाने की नहीं मिल रही रही ऐसे में हज पर न जाएं एंव अपने मां बाप की खिदमत पहले करें

जाने से पहले कर्ज अदा करें

अगर आपने किसी से कर्ज लिया है या किसी का माल गबन किया है ऐसे में कर्ज की अदायगी पहले करें अगर किसी का माल हड़प लिया है ऐसे में सच्चे दिल से तौबा करें या फिर किसी का माल आपके जिम्मेदारी पर है तो उस माल को देकर जाएं जिसका माल है उसे दे अगर माल देने वाला अगर दुनिया में नहीं है ऐसे में उसके बच्चो को माल की अदायगी करें उसके बाद हज पर जाएं

हज के नियम: अल्लाह के हुकुक अदा करें

  • हज पर जाने से पहले अल्लाह पाक के हुकुक अदा करें
  • अल्लाह के हुकुक जो भी आपके जिमादारी है यानी रोजा और नमाज
  • इन्हें अदा करें अगर आप से इतनी नमाज छुटी हुई है कि इस वक्त उन्हें आप अदा नहीं कर सकते हो
  • ऐसे में आप अपने दिल में खूब इस्तेग्फार करें
  • इसके बाद अल्लाह से दुआं करें और नियत करें “मैं इन छुटी नमाज को और रोजो अदा कर लूँगा”

शिकवा या शिकायत मिटाने के बाद जाएं

अगर किसी से आपकी नाराजगी चल रही हो ऐसे में अपने दिल की सफाई करें और जिनसे शिकवा शिकायत है उनसे मांफी मांगे या फिर किसी का दिल दुखाया हो तो उनके पास जाकर मांफी मांगे

बीबी बच्चे या परिवार का ख्याल करके जायें

अगर आपका परिवार है ऐसे में अगर परिवार का खर्चा आपके जिम्मेदारी पर है तो परिवार के खर्चे का पहले इन्तेजाम करें उसके बाद ही हज यात्रा के लिए जाएं

जरुरी दस्तावेज साथ लेकर जाए

  • जरुरी दस्तावेज, हज पर जाने से पहले साथ लेकर जाए साथ ही एक कॉपी हज की घर पर भी रख कर जाए
  • जिससे किसी तरह की परेशानी आने पर वह कागजात काम आ सके
  • खाने पीने का सामान मक्का और मदीना में मिल जाता है
  • इसलिए खाने पीने की चीजे का फ़िक्र न करें
  • फिर भी अपने साथ हज पर कोई समान ले जाना चाहते है तो इस बात का ध्यान रखें
  • आपके पास 40 किलो से अधिक वजन का सामान न हो पाएं

नोट: हज यात्रा यानि हज करने के नियम को पूरा कर लेने के बाद ही हज यात्रा को करें जिससे आपका हज कामयाब हो सकें दुआ में याद रखना आपका अपना नदीम गोरखपुरी

लोकप्रिय लेख

यह भी देखे